Tuesday, January 19, 2010

मां सरस्वती!

जय माँ विद्या दायिनी वादवदिनी माता सरस्वती |
मंगल कर सुमंगल कर, दे दे मैया सु-मति !!

नए गीत नए तराने सब कुछ है इस जहां मैं |
खो गयी है समझ प्यार प्रीत की, ढूंढूं कहाँ मैं !
ज्ञान बहुत है इंसां को बस दे दे उनको सदमती!


मन के कुंजी पटल पर वैर भाव वाले शब्द न हो |
मेरे बोल से दिल न दुखे मानवता निशब्द न हो ||
नवचेतना नवसृजन को दे दे मैया अब गति !

13 comments:

  1. sundar rachna...
    वसंत पंचमी की शुभकामनायें
    जय हिंद...

    ReplyDelete
  2. वसंत पंचमी की शुभकामनायें


    बहुत शानदार!

    ReplyDelete
  3. बहुत सुंदर लिखा है .. वसंत पंचमी की शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete
  4. सुंदर,

    जय माँ शारदे

    बसंत पचमी की बधाई

    ReplyDelete
  5. आप सभी को वसंत पंचमी की शुभकामनाएं.

    ReplyDelete
  6. Bahut hee sundar! Anek shubhkamnayen!

    ReplyDelete
  7. सभी को वसंत पंचमी की शुभकामनाएं!

    ReplyDelete
  8. आपको भी वसन्त पंचमी की बहुत बहुत शुभकामनाऎँ!!!
    माँ सरस्वती की सब पर कृ्पा बनी रहे!!!!

    ReplyDelete
  9. बसंत पंचमी की बहुत बहुत शुभकामनाएँ .........

    ReplyDelete
  10. वसंत पंचमी की हार्दिक शुभ कामनाएँ...सुंदर स्तुति

    ReplyDelete
  11. वसंत पंचमी की शुभकामनायें

    ReplyDelete
  12. आपको और आपके परिवार को वसंत पंचमी और सरस्वती पूजा की हार्दिक शुभकामनायें!

    ReplyDelete

आपके लिए ही लिखा है आप ने टिपण्णी की धन्यवाद !!!