Wednesday, November 25, 2009

आर जे "अक्स" उर्फ़ मुरारी की महफ़िल "मिष्टी महफ़िल" !!

आइये दिलों को दिलों से मिलाता कार्य क्रम मिष्टी महफ़िल सुने|
जिसका समय है रविवार रात्रि ७ बजे से रात्रि १० बजे तक |
जिसे दिलकश अंदाज में पेश किया है आर जे "अक्स" उर्फ़ मुरारी उर्फ़ मैंने !!!
ये कार्य क्रम काफी लोकप्रिय हो चुका है !
पूरी तरह से हिंदी में होने बावजूद एक ऐसे प्रान्त में जहां लोग हिंदी बोल नहीं पाते !
अच्छी तरह से समझ नहीं पाते !अपने झंडे गाड़ चुका है !
इस शो में सिर्फ प्यार मोहब्बत और रिश्तों की बातें होती हैं आपके सुझावों का स्वागत है!
अपने कार्य क्रम को बेहतर बनाने के लिए आप सब की राय अत्यंत आवश्यक है|
अत: कृपया आपको जो भी त्रुटी लगे जरुर बताएं आपके विचार मेरे लिए बहुमूल्य हैं !!!

14 comments:

  1. बहुत बढ़िया
    अच्छा लगा

    आभार और शुभ कामनाएं



    ★☆★☆★☆★☆★☆★☆★☆★
    प्रत्येक बुधवार रात्रि 7.00 बजे बनिए
    चैम्पियन C.M. Quiz में

    ★☆★☆★☆★☆★☆★☆★☆★
    क्रियेटिव मंच

    ReplyDelete
  2. पूरे एक घंटे आनन्द की बरसात रही मिष्टी महफिल...वाह मुरारी बाबू..वाह!!!


    त्रुटी लगे जरुर बताएं---खोजते हैं :)

    ReplyDelete
  3. अच्छा लगा धन्यवाद !

    ReplyDelete
  4. बहुत खूब, बहुत बढ़िया. भाई मज़ा आ गया.

    ReplyDelete
  5. बहुत सुंदर, अभी सुना नही पुरा.... लेकिन टिपण्णी पहले ले लो फ़िर फ़ुरसत मै आगे सुनता हुं, भाई एक विनती है इस फ़ोटू को जि ऊपर घुमती है ना इसे हटा दो बहुत समय लगता है, आप के ब्लांग खुलने मै.
    धन्यवाद

    ReplyDelete
  6. मुरार्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्री लाल जी, बहुत बढिया लगी आपकी ये मिष्टि महफिल....अभी साथ साथ सुन ही रहे हैं ।

    ReplyDelete
  7. वाह पारीक जी बहुत सुंदर और शानदार लगा आपका ये मिष्टी महफ़िल कार्यक्रम! मज़ा आ गया! धन्यवाद !

    ReplyDelete
  8. LAJAWAAB HAI AAPKI MAHFIL ... BHAI HUM TO ABHI BHI MAZAA LE RAHE HAIN ....

    ReplyDelete
  9. mishti mehfil bahut hi achchhi lagi . vaise ye to ab ham bhi sun sakte hai na ..to ham bhi aapki mehfil me shamil ho gaye hai aise laga ....

    ReplyDelete
  10. वाह ......बोर धुनिया लागिल .......!!

    ReplyDelete

आपके लिए ही लिखा है आप ने टिपण्णी की धन्यवाद !!!